गुरुवार, 7 मार्च 2019

What is E-Commerce - Types of E Commerce in Hindi

दोस्तों आज हम बात करेंगे E - Commerce के बारे में की, What is E commerce, Types of E commerce, Benefits of e commerce, E commerce examples, Disadvantages of E-commerce इत्यादि के बारे में जानेंगे। दोस्तों E - Commerce का मतलब होता है की, किसी product या services की online ख़रीदी या बिक्री करना।

आज marketplace में ऐसी बहुत सी कंपनियां है जो ऑनलाइन अपने वस्तुओं और सेवायों को खरीदते है या बेचते है। आजकल ज्यादातर लोग internet द्वारा ही ऑनलाइन सामान ख़रीद रहे है। तो दोस्तों E - Commerce kya hai, इ कॉमर्स के प्रकार, E - Commerce Website कोनसी है, इ कॉमर्स के उदाहरण और इ कॉमर्स के बारे में और भी कुछ जानकारी जानने की कोशिश करते है।



What is E-Commerce in Hindi - E Commerce kya hai

E-Commerce का पूरा नाम Electronic Commerce है। E-Commerce यह internet पर एक प्रकार का business है इसे E-business भी कहते है। इलेक्ट्रॉनिक माध्यम के द्वारा यानि internet की मदद से किसी product या service को खरीदना या बेचना इसे ही E-Commerce कहते है।

E-Commerce - Electronic Commerce यह इंटरनेट के माध्यम से व्यवसायों द्वारा विभिन्न उत्पादों और सेवाओं की खरीद-बिक्री की एक प्रक्रिया है। आजकल ई-कॉमर्स यह उन लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय हो गया है, जो अलग-अलग चीजों को खरीदना और बेचना चाहते है, क्योंकि यह सुविधा रिटेलर विक्रेताओं को लागत मे लाभ और ग्राहकों को लागत बचत प्रदान करता है। 

E-Commerce के अंतर्गत internet पर online shopping, online payment, online ticket booking, EDI - Electronic Data Interchange, internet banking, mobile banking जैसे काम किये जाते है और यह सब e commerce examples है, जो हम घर बैठे आसानी से कर सकते है। और यह service 24 hours शुरू रहती है इसलिए हम कही से और कभी भी online shopping कर सकते है।

Types of E-Commerce in Hindi - Types of E-Commerce Business Models 


दोस्तों E-Commerce business models यानि E-Commerce के प्रकार को आमतौर पर नीचे दिए गये categories में वर्गीकृत किया जाता है। तो दोस्तों E-Commerce के प्रकार के बारे में जानते है। 

1) Business to Business
2) Business to Consumer 
3) Consumer to Consumer
4) Consumer to Business
5) Business to Administration
6) Consumer to Administration

दोस्तों इन प्रकारों के बारे में हम आगे सविस्तर में जानेंगे।


Business to Business E-commerce (B2B )

Business to Business इस तरह के E-commerce में सामान और सेवायों से संबंधित सभी प्रकार के व्यवहार, लेन देन का समावेश होता है। इस प्रकार में मुख्यतः दो व्यवसायों के बिच लेन देन किया जाता है।

जैसे की एक business organisation अपने product बनाकर किसी दूसरे business organisation को बेचता है, इसमे retailers के साथ साथ wholesalers और उत्पादक का भी समावेश होता है।

Business to Consumer Ecommerce (B2C )

Business to Consumer ( B2C ) E commerce मे बिज़नेस और कंज्यूमर यानि कारोबार और ग्राहकों के बीच लेन-देन होता है। आज Flipkart, Amazon, Aliexpress जैसी कुछ website है जहा से हम कोई भी product order करके ख़रीद सकते है। आज B2C E commerce का ही ज्यादातर उपयोग हो रहा है।

Amazon, Flipkart, Myntra जैसी electronic shopping sites पर आपको जो चाहे वह product मिल जायेंगे और आप वह online order करके ख़रीद सकते है।

Consumer to Consumer Ecommerce (C2C )

Consumer to Consumer Ecommerce में दो ग्राहकों के बीच उत्पादों और सेवाओं की लेन देन होती हैं। OLX, Ebay, quicker जैसी website पर हम कोई भी पुरानी वस्तुओं को online ख़रीद सकते है या बेच सकते है। एक consumer website के माध्यम से अपना कोई product किसी दूसरे consumer को बेचता है।

Consumer to Business Ecommerce (C2B )

C2B Ecommerce में Consumer अपने product या service को किसी company को बेचता है, इसमे बेचने और खरीदने की process पूरा उलटा होता है। इसमे व्यक्ति अपनी वस्तुओं या सेवाओं को बनाते हैं जैसे की, किसी कंपनी के लिए logo या site, Design elements, Royalty free photographs बनाकर कंपनियों को बेचते हैं। यह काम आप freelancer जैसी websites से कर सकते है।

Consumer to Administration Ecommerce (C2A)

Consumer to Administration Ecommerce Model मे व्यक्तियों और प्रशासन के बीच इलेक्ट्रॉनिक लेन देन किया जाता है। distance learning ( दूरस्थ शिक्षा), information sharing ( सूचना साझा करण ), electronic tax filing ( इलेक्ट्रॉनिक कर दाखिल करना ) यह C2A Ecommerce Model के कुछ examples है, जो website द्वारा किये जाते है। C2A यह G2C यानि Government to Citizen इस नाम से भी जाना जाता है।

Business to Administration Ecommerce (B2A)

G2A Ecommerce में कंपनियों और लोक प्रशासन के बीच लेन देन होते हैं। B2A को G2A यानि Government to Business इस नाम से भी जानते है। इसमे विभिन्न सेवाओं, जैसे कि social security ( सामाजिक सुरक्षा), employment ( रोज़गार ), legal documents ( कानूनी दस्तावेज़ों), इत्यादि का समावेश होता है।



Benefits of E Commerce - इ कॉमर्स के फ़ायदे

दोस्तों उपर हमने E Commerce के विभिन्न प्रकारों के बारे में जाना है और E Commerce का उपयोग करने से हमे बहुत benefit मिलते है। तो दोस्तों हम advantages of ecommerce - इ कॉमर्स के फ़ायदे क्या है यह जानते है।  

1) Internet पर सभी प्रकार के product मिलते है और कोई भी वस्तु ख़रीदने के लिए कहा बाहर जाने की जरूरत नही होती, आप घर बैठे online product order कर सकते है और वह प्रोडक्ट अपने घर पर ही डिलीवर हो जाते है।

2) E Commerce का उपयोग करने के लिए कोई समय नही रहता आप जब चाहे तब online shopping का फ़ायदा उठा सकते है। Online shopping service 24 hours शुरू रहती है।

3) Online ख़रीददारी करने के लिए बहुत सी website है इससे आप कोई product और उनकी क़ीमत को compare कर सकते है। 

4) Internet द्वारा सभी प्रकार के product और services कस्टमर तक आसानी से पहुँच सकते है।

5) Online shopping करने से payment fast होता है, क्योंकि मोबाइल ट्रांजेक्शन या net banking का उपयोग होने के कारण पेमेंट फास्‍ट होता हैं।

6) E Commerce का online उपयोग होने के कारण किसी प्रकार के documents की जरूरत नही पड़ती।

7) E Commerce यह business process को सरल और कुशल बनाने के लिए बहुत मदद करता है ।

8) E Commerce उत्पादों की लागत कम करने में मदद करता है।

9) E Commerce company की ब्रांड को अधिक बेहतर बनाता है।

10) E Commerce से National और International online shopping की डिमांड बहुत बढ़ रही है।

Disadvantages of E Commerce

E Commerce का उपयोग करने से जैसे हमे फ़ायदे होते है वैसे ही कुछ नुकसान भी देखने को मिलते है। तो दोस्तों नीचे हम इ कॉमर्स के नुकसान - Disadvantages of e-commerce के बारेमे जानते है।

1) आप online जो कुछ भी प्रॉडक्‍ट खरीदते है तो उस product को नज़दीक से देखकर चेक नही कर सकते है। इसी कारण से low quality product या defective product भी आपके घर पर डिलीवर हो सकते है।

2) दोस्तों कभी कभी ऐसा होता है की आपको ख़राब क्वालिटी के प्रोडक्ट मिलने आप उसके बारे में कोई शिकायत नही कर सकते इसलिए कस्टमर को अच्‍छी सर्विस नही मिल सकती और उनका टाइम और पैसों का भी नुकसान हो जाता है।

3) Online shopping करने के लिए आपको अपने पर्सनल डिटेल्‍स और क्रेडिट कार्ड की जानकारी देनी पड़ती है इसकी वजह से कभी कभी आपकी इनफॉर्मेशन भी चोरी हो सकती है।

4) Online website में आपको एक साथ बहुत सी वस्तुए दिखाई देती है इसकी वजह से हम अनचाहे या अनावश्यक वस्‍तूए भी खरीदते है।

Top E - Commerce Websites

दोस्तों आपको internet पर ऐसी बहुत सी website मिल जाएगी है जिससे आप आसानी से जब चाहे तब online shopping कर सकते है, तो Top E - Commerce Website कोनसी है यह हम देखते है।

List of Online Shopping Sites in India  /  E - Commerce Websites in World

1) Amazon.com
2) Snapdeal.com 
3) Flipkart.com 
4) Homeshop 18
5) Infibeam.com
6) Jabong
7) Shopclues 
8) Infibeam.com 
9) Yebhi
10) Quiker
11) ebay
12) Walmart
13) Alibaba
14) Taobao
15) Overstock

तो दोस्तों अगर आपको internet के माध्यम से online shopping करनी है तो उसके पहले आपको उस website के बारे में पूरी और सही जानकारी मिलना बहुत जरूरी है नही तो आपका नुकसान भी हो सकता है।

दोस्तों उम्मीद है की आपको E-Commerce के बारे में जैसे what is E-Commerce, Types of E Commerce, E - Commerce Websites, advantages or disadvantages of E Commerce के बारे में काफ़ी कुछ जानकारी मिली होंगी।


आशा करते है की आपको " What is E-Commerce - Types of E commerce Business Models और Types of E Commerce in Hindi " हमारा यह article अच्छा लगा होगा तो अपने दोस्तों में ज़रूर शेयर करे और हमे comments करके बताये।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें